रामू और श्यामु – Best Motivational Story in Hindi

Best Motivational Story in Hindi

Hello friends after Sharing kids motivational moral story in hindi today we are sharing best motivational story for you. i hope you will like this moral motivational story in hindi. We know that most of people in the world share Best Motivational Story in Hindi with friends and family members. So its very difficult for them to create a new motivational quotes or inspirational quotes. So today I am sharing best Best Motivational Story in Hindi with all peoples so that they will never face any problems In sharing quotes on social media daily.

You can check all types of Best Motivational Story in Hindi below. like motivational , inspirational , life changing quotes you can  select any quotes you can select any quotes according to your mood . I am 100% sure you will like this Best Motivational Story in Hindi and they will help you to change your mood. And last one listen if you like this post then don’t forget to comment and share on social media.

एकता की ताक़त – Best Motivational story




रामू और श्यामु – Best Motivational Story in Hindi

 

एक समय की बात है जेबी दादा अपने आश्रम मे बैठे हुए थे , की अचानक वाहा उनके आश्रम से शिक्षित विद्यार्थी  आ पोहचे,

आकर उन्होने जेबी दादा को प्रणाम किया और कहा गुरुजी हम अभी सही दुनिया डारी मे आ पोहचे हे तो कृपया हमे ये बताए की हम अपने लक्ष्य को कैसे प्राप्त करे,


जेबी दादा ने कहा मे तुम्हे एक कहानी सुनता हूँ बहुत समय पहले एक गुरुकुल मे दो दोस्त रहते थे रामू और श्यामु,


उस गुरुकुल मे बहोत सारे एसए नियम थे जो बच्चो के लिए हानिकारक साबित होते थे , फिर एक दिन ये दोनो मित्र इसी बारे मे बात कर रहे थे, रामू ने श्यामु से कहा की दोस्त ये नियम मुझे बिल्कुल पसंद नही हे,हमे ये शाला को छोड़ देना चाहिए


एसा बहोत दीनो चला जब भी श्यामु शाला छोड़ने की बात करता रामू उसको किसी और बात मे घुमा देता और फिर वो भूल जाता था,


फिर एक दिन रामू ने बड़ा पेपर का टुकड़ा लिया और उसमे बड़े अक्षरो मे “पी” लिखा और अपने रूम मे लगा दिया,


फिर सब लोग देखते और पूछते की रामू ये “पी” का क्या मतलब है, तो वो कहता यार कुछ खास नही है एसे ही लगाया है,




फिर सब लोग रामू का मज़ाक उड़ाने लगे और कहते पी फॉर पागल , रामू पागल है,


ये बात चलते चलते शाला के शिक्षक तक पहोच गयी और उसने रामू से मिलने का निर्णय लिया,


फिर शिक्षक ने रामू से पूछा की बताओ ये “पी” आख़िर क्या मतलब होता है , रामू के कहा समय आने पर सबको बता दूँगा लेकिन अभी उसका सही समय नही आया है,


एसे करके सारे बच्चे एक एक करके शाला छोड़कर जाने लगे, एक दिन एसा भी आया की रामू का दोस्त श्यामु भी शाला छोड़कर चला गया,


एसे शाला के सभी लोग रामू की तारीफ करने लगे और उसके पास से नयी नयी चेज़े जानने लगे,


एसा चलते चलते रामू की पढ़ाई ख़त्म हुई तो सभी बच्चो के कहने पर वो उसी शाला मे शिक्षक बन गया फिर उसके उपरी शिक्षक ने कहा अब तो बताओ उस “पी” का क्या मतलब होता है,


फिर रामू ने कहा थोड़े दिन और रुक जाओ


थोड़े साल बाद रामू को उस शाला का प्रिन्सिपल बना दिया गया और सब सही होगा , सब लोग उसे बहोत पसंद करते थे,


अचानक एक दिन उसका दोस्त श्यामु उस शाला मे आया और उसने देखा तो उसका बचपन का दोस्त रामू वाहा पे प्रिन्सिपल बन गया था फिर उसे अचानक वो दीवाल पे लिखी हुई “पी” वाली बात याद आई तो उसने पूछा अब तो बता दे वो “पी” का क्या मतलब था,


फिर रामू ने कहा सुन भाई जब हम पढ़ रहे थे तब तू और मे सारे बहोत दुखी से इस शाला के प्रिन्सिपल के बनाएँ गये नियमो से , पर फिर एक दिन मुझे सोचते सोचते ये ख़याल आया की मे ही इस शाला का प्रिन्सिपल बन जाउ तो सब सही हो जाएगा ,




फिर मैने उसी रात अपना लक्ष्य बनाया और उसका नाम माने दिया “पी” फॉर प्रिन्सिपल और संकल्प लिए की जब तक मे इस शाला मे प्रिन्सिपल बन ना जाउ तब तक ये बात किसी को बताउँगा नही ,


फिर मुझे इस शाला मे रहने का और अपने जीवन मे कुछ करने मकसद मिल गया और आज देखे ही देखते मे यहा तक आ गया,


उस शाला को फिर बच्चे और आसपास के लोग बेहद पसंद करने लगे,


फिर जेबी दादा ने कहा इस कहानी से ये हमे जानने को मिलता है की लक्ष्य कुछ भी हो सकता है परंतु जब तक उस लक्ष्य को हाँसिल ना कार्लो तब तक उसके गुणगान नही करने चाहिए सिर्फ़ उसके लिए मेहनत करनी होती है सफलता ज़रूर मिलेगी,


बच्चो को उनका जवाब मिल गया और फिर वो वाहा से चले गये


तो फिर दोस्त कैसी लगी आपको ये प्रेरणादायक कहानी (Best Motivational Story in Hindi) और एसी मोटिवेशनल प्रेरणादायक कहानी (Best Motivational Story in Hindi) के पाने के लिए इस वेबसाइट को सबस्क्राइब करे , ताकि आपको जब भी नयी कहानी आए आपको ई-मैल द्वारा जानकारी मिल सके.इस Best Motivational Story in Hindi को पढ़ने के लिए आपका बहोत बहोत शुक्रिया.


Related Story::


एकता की ताक़त – Best Motivational story


संघर्ष – Motivational Story


चिंता – Moral Story in Hindi


{*प्रामाणिकता*} Honesty Moral Story


Kids Story in Hindi


Hindi Moral Story For Kids


बाल कथाएँ

One Reply to “रामू और श्यामु – Best Motivational Story in Hindi”

  1. I have recently started a web site, the info you provide on this web site has helped me greatly. Thanks for all of your time & work. “Yield not to evils, but attack all the more boldly.” by Virgil.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *